भारतीय टीम: भारत की दो टीमें एक ही समय पर दो जगह पर अंतरराष्ट्रीय मैच खेलेंगे।

अभी हाल ही में भारतीय टीम ने इंग्लैंड को टेस्ट सीरीज 3-1 से हराकर आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में भारत फाइनल में पहुंच गया।

जहा भारत का मुकाबला न्यूजीलैंड से होगा।

क्रिकेट के इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है कि भारत की दो टीमें एक ही समय पर दो जगह पर अंतरराष्ट्रीय मैच खेलेंगे।

आइए हम बताते हैं ऐसा क्यों हो रहा है?

यह साल भारतीय टीम के लिए बहुत व्यस्त साल है इस साल में बहुत सारे टूर्नामेंट भारतीय टीम को खेलने हैं।

कोरोना के चलते 2020 के बीच में होने वाला T20 वर्ल्ड तथा एशिया कप जैसे बड़े बड़े टूर्नामेंटों को 2021 के लिए पोस्टपोन कर दिया गया था।

इंग्लैंड के साथ सीरीज खत्म होने के बाद आईपीएल का आयोजन होगा।

उसके बाद भारत इंग्लैंड के दौरा करेगा।

दरअसल जून महीने में एशिया कप होगा। जिसका आयोजन श्रीलंका में किया जाएगा।

इसी महीने में वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल भी है। ऐसे में भारतीय टीम किसी एक ही टूर्नामेंट में हिस्सा ले सकती है।

या BCCI के पास दूसरा ऑप्शन यह हैं कि B टीम को एशिया कप के लिए श्रीलंका भेजें।

दोनों टूर्नामेंट एक ही साथ आयोजित होने की आशंका जताई जा रही है।

लेकिन भारतीय टीम को आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में खेलना जरूरी है।

अगर ऐसा होता है तो हम एक ही समय पर दो भारतीय टीमों को दो अलग-अलग जगहों पर अलग अलग सीरीज खेलते हुए देख पायेंगे।

यह टीम भी श्रेस अय्यर, शिखर धवन, सूर्य कुमार, नटराजन जैसे बेहतरीन खिलाड़ियों से सजी होगी।

इसलिए यह उम्मीद जताई जा रही है की भारत की B टीम भी एशिया कप टूर्नामेंट में बेहतरीन प्रदर्शन करेगी।

यह भी पढ़े अंजलि तेंदुलकर जीवन परिचय

भारतीय टीम के खिलाड़ी

इस टीम की कप्तानी लोकेश राहुल को सौंपे जाने की उम्मीद है।

जो की आईपीएल में पंजाब किंग्स के कप्तान है।

जो की किंग्स इलेवन पंजाब तीन का नया नाम नाम है।

लोकेश राहुल एक अच्छे कप्तान शाबित हो सकते है।

अगर राहुल की कप्तानी में भारतीय टीम एशिया कप जीतती है तो बहुत ही बड़ी होगी।

फिलहाल अभी भारत इंग्लैंड से पांच मैचों की T20 सीरीज खेल रही है।

पहले दो मैचों में राहुल का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा।

Leave a Comment

Open chat
Hello