भारत की खोज किसने की थी? Bharat Ki Khoj Kisne Ki Thi?

भारत की खोज किसने की थी?, bharat ki khoj kisne ki thi?, Bharat Ki Khoj Kisne kiya Tha

हम आज जानेगे की भारत की खोज किसने की थी और कब की थी।

यहां भारत की खोज मतलब यह नही है कि पहले भारत नही था और किसी ने उसका अविष्कार किया है। जैसे बल्ब की खोज, इंजन की खोज आदि।

जी नही पहले भारत का वजूद कई लाख सालों से बस दुनिया यह मालूम नही था कि भारत नाम का कोई देश भी है और वह कहा स्थित है।

प्राचीन समय मे विश्व का नक्शा नही हुआ करता था। यहां तक कि कई देशों को अपने अपने पड़ोसी देशों के बारे में भी कुछ जानकारी नही प्राप्त थी।

बास्को द गामा ने भारत की खोज की दुनिया को यह बताया कि भारत जाने का मार्ग क्या है।

और दुनिया मे किस जगह भारत स्थित है।

भारत की खोज किसने की थी? Bharat Ki Khoj Kisne kiya Tha

भारत की खोज किसने की थी
भारत की खोज किसने की थी

वास्को द गामा (Vasco da Gama) ने भारत की खोज 20 मई 1948 में की थी।

वास्को डी गामा के द्वारा खोजे गए समुंद्री मार्ग ने भारत को पुर्तगाल और दक्षिण पूर्व एशिया के साथ जोड़ दिया।

जिससे व्यापार के कई रास्ते भारत के लिए नजर आने लगे।

पुर्तगाली भारत के साथ साथ चीन से भी व्यापार करने लगे।

यूरोप से पूर्वी एशिया तक समुंद्री मार्ग खोजने का श्रेयः vasco da gama को जाता है।

वास्को डी गामा कितनी बार भारत आया था?

वास्को डी गामा अपने जीवनकाल में तीन बार भारत का आया था।।

Vasco da gama सबसे पहले 20 मई 1948 में भारत के केरल तट पर पहुचा था।

दूसरी बार वास्कोडिगामा ने 1502 ईसवी में भारत का दौरा किया। वास्कोडिगामा को ईसाई होने के कारण होने के कारण मुश्लिम व्यपारियों ने कड़ा विरोध किया।

क्योकि मुश्लिम देश भारत के साथ व्यापार करते थे उनको यह राश न आता था कि उनके अलावा भारत से कोई और व्यापार करें।

तीसरी बार वास्कोडिगामा ने पुर्तगाल के एक वायसराय के रूप में भारत की यात्रा की जहा उसका मकसद भारत मे पुर्तगालियों के विरोध को दबाना था।

तीसरी बार की भारत यात्रा के कुछ महीने बाद वास्कोडिगामा मलेरिया का शिकार हो गया।

जिसके चलते 23 दिसंबर 1524 में उसकी मृत्यु हो गयी।

वास्कोडिगामा भारत क्यों आया था।

दरअसल यूरोपीय देशों में मसाले की बहुत कमी थी। वहां मसलों पैदावार बहुत ही कम होती थी।

और यूरोप के सभी देश किस्सो, कहानियों तथा व्यपारियों के माध्यम से यह सुना था कि कोई एक देश है. जिसका नाम भारत है वहा मसलों की बहुत पैदावार होती। और बहुत से देश भारत से मसलों का व्यापार करते है।

व्यापार की दृष्टि से पुर्तगाल का राजा वास्कोडिगामा को भारत की खोज के लिए भेजा था।

अपने राजा की आज्ञा का पालन करते हुए, वास्कोडिगामा ने 8 जुलाई 1497 को 4 समुंद्री जहाज तथा 170 व्यक्तियों के साथ पुर्तगाल से रवाना हुआ था।

कई देशों का भ्रमण करने के 10 महीने बाद 20 मई 1948 को भारत के केरल राज्य तक पहुचा।

वास्कोडिगामा से पहले किसने-किसने भारत खोजने की कोशिश की थी।

वास्कोडिगामा से पहले दो और यूरोपीय लोगों में भारत खोजने की कोशिश की थी।

लेकिन वह दोनों नाकाम रहे।

इनमे से वास्कोडिगामा एकलौता व्यक्ति था जिसने भारत की खोज करने में सफल रहा।

1 thought on “भारत की खोज किसने की थी? Bharat Ki Khoj Kisne Ki Thi?”

Leave a Comment

Open chat
Hello