Uncategorized

PM POSHAN SCHEME: प्रधानमंत्री पोषण योजना क्या हैं? सही पोषण – देश रोशन

हालही में भारत सरकार द्वारा एक बहुत ही जबरदस्त योजना लांच की गई है। जिसका नाम है प्रधानमंत्री पोषण योजना।

यह योजना 29 september 2021 को लांच की गई। क्या है यह योजना तथा इसके कौन कौन से लाभ है।

आइये हम एक विस्तृत लेख के जरिये समझने की कोशिश करते है।

क्या है प्रधानमंत्री पोषण योजना

आपने पहले mid day meal योजना का नाम तो सुना होगा। उसकी का नाम बदलकर प्रधानमंत्री पोषण योजना कर दिया गया है।

Mid डे मील योजना के तहत सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे बच्चों के लिए भोजन की व्यवस्था की जाती थी।

प्रधानमंत्री पोषण योजना में पोषण का क्या मतलब है आइये जानते है।

Full Form of Poshan = po का मतलब है पोषण
Sh का मतलब है शक्ति
N का मतलब है निर्माण = पोषण शक्ति निर्माण

क्या थी मिड डे मील योजना

मिड डे मील का मतलब होता है मध्यान्ह भोजन।

मिड डे मील योजना सन 1995 में शुरू की गई थी। इस योजना के तहत सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले कक्षा 1 से 8 तक के बच्चों को 1 टाइम का भोजन भारतीय सरकार द्वारा दिया जाता था।

सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले गरीब बच्चें जिनको भोजन की कमी थी उनके लिए यह योजना भारत सरकार ने शुरू की थी।

एक अध्ययन के मुताबिक भारत मे लगभग 11.80 करोड़ ऐसे बच्चे है जो गरीब परिवार से आते है जिनको एक टाइम का भोजन भी शुद्ध से नशीब नही होता है।

इन 11.80 करोड़ बच्चों के लिए सरकार ने mil-day meal योजना चला रही थी। जिसका नाम अब प्रधानमंत्री पोषण योजना हो गया है।

Pm Poshan में क्या नया है?

Mid-day meal के तहत 1 से 8 तक के बच्चों को भोजन का लाभ मिलता था क्योंकि उस समय आंगनवाड़ी स्कूलों की व्यवस्था नही थी।

लागू नयी शिक्षा नीति के तहत इस योजना को लागू किया गया है जिससे 24 लाख बच्चे जो LKG तथा UKG में पढ़ते है। उनके लिए भी भोजन की व्यवस्था की जाएगी।

आपको बता दू की यह योजना का टोटल बजट 1.31 लाख करोड़ रुपये है। जिसमे से 1 लाख करोड़ का बजट केंद्र सरकार देगी तथा 31 हजार करोड़ राज्य सरकार की हिस्सेदारी होगी।

यह योजना कितने साल के लिए है?

Pm poshan yojana की अवधि भारत सरकार ने 2021-22 से 2025-26 तक यानी 5 साल के लिए रखी है।

इन पांच साल के लिए भारत सरकार ने 1.31 लाख करोड़ रुपये निर्धारित की है।

इस योजना के तहत tithibhojan योजना को विकसित किया जा रहा है।

क्या है Tithibhojan (तिथि भोजन)

तिथि भोजन, इसको इस प्रकार से समझते है मान लीजिए आप बहुत अमीर है आपके पास बहुत सारी धन दौलत है।

तो आप किसी आश्रम, मंदिर में दान तो जरुर देते होंगे। और मंदिरों पर भंडार करते होंगे।

या आपका जन्मदिन आता है या कोई भी खुशी की बात होती है तो आप पार्टी देते है, भंडार कराते है।

तो तिथि भोजन योजना के तहत आपको सरकार द्वारा यह इजाजत दी जाएगी। कि आप अपनी इच्छानुसार 1 दिन का भोजन सरकारी स्कूलों को उपलब्ध करा सकते है।

इसके लिए आप सरकारी स्कूल में यह आवेदन दे सकते है कि इस तिथि को मेरा जन्मदिन है तो मैं इस दिन स्कूल का सारा भोजन मैं दूंगा।

यही है तिथिभोजन योजना। इसके अनुसार जो भी व्यक्ति इच्छुक है वह सरकारी स्कूलों के लिए भोजन मुहैया करा सकता है।

किस किस राज्यों ने तिथि भोजन लागू किया है?

राज्य (State)तिथि योजना का नाम
Assam Sampriti Bhojan
Karnataka Shaalegaggi Naavu Nivu
PunjabPriti Bhojan
Andhra PradeshSampriti Bhojan
UttarakhandTithi Bhojan
Daman-Diu Tithi Bhojan
HaryanaBeti Ka Janm Din
MaharashtraSneha Bhojan
PuducherryAnna Danam
Madhya PradeshSneha Bhojan
Chandigarh Tithi Bhojan

सबसे पहले mid-day meal योजना किस राज्य में शुरू की गयी थी।

सबसे पहले सन 1961 में तमिलनाडु राज्य मे मिल डे मील योजना शुरू की गई थी।

. जज्बात का अर्थ क्या होता है?

. गोल्डफिश का साइंटिफिक नाम क्या है? गोल्डफिश की 16 प्रजातियां कौन सी है?

प्रधानमंत्री पोषण योजना के महत्वपूर्ण तथ्य

  1. PM POSHAN योजना के अंतर्गत देश के 11.20 लाख स्कूलों में पढ़ने वाले 11.80 बच्चों को भोजन दिया जायेगा।
  2. तिथि भोजन को अधिक महत्व देना।
  3. 99 हजार करोड़ केंद्र सरकार तथा 31733 करोड़ रूपये राज्य सरकार देगी।
  4. School Nutrition Garden: इस योजना के तहत विटामिन से भरपूर फलो को स्कूल के अंदर लगाया।

प्रधानमंत्री पोषण योजना से जुड़े महत्वपूर्ण Q&A

1. MID-DAY MEAL योजना सबसे पहले कब और कहा शुरू की गयी थी?

(a). हरियाणा 1980

(b). उत्तर प्रदेश 1961

(c). Tamilnadu 1961

(d). Daman-Diu 2021

2. प्रधानमंत्री पोषण योजना कब लांच की गयी।

(a). 29 Sep 2020

(b). 2 oct 2021

(c). 28 Sep 2021

(d). 29 Sep 2021

3. PM POSHAN YOJANA की कुल लागत कितनी है?

(a). 1 लाख करोड़

(b). १.३१ लाख करोड़

(c). 5 हजार करोड़

(d). इनमे से कोई नहीं

4. PM POSHAN YOJANA कितने साल के लिए लागू की गयी हैं?

(A). 4 साल

(b). 5 साल

(c). 10 साल

(d). 20 साल

Recent Posts

जीवन का विलोम शब्द संस्कृत में

जीवन का विलोम शब्द संस्कृत में, अपने बुजुर्गों के मूर्खों से अक्षर सुना होगा कि… Read More

5 days ago

एक गैलन में कितने लीटर होते हैं?- 1 Gallon me kitne liter hote hain?

एक गैलन में कितने लीटर होते हैं इस पोस्ट के माध्यम से हम जानेंगे। 1… Read More

2 weeks ago

Happy Diwali 2021 Quotes: दीवाली और गोवर्धन पूजा के शुभ मुहूर्त।

Diwali 2021: जैसा कि आप सभी जानते है हिंदुओं का 4 नवंबर को है जिसकी… Read More

4 weeks ago

मोर का पर्यायवाची शब्द – Mor Ka Paryayvachi Shabd

मोर का पर्यायवाची शब्द आज हम बात करने वाले है की मोर का पर्यावाची शब्द… Read More

4 weeks ago

केरल में कौन सी भाषा बोली जाती हैं?

केरल में कौन सी भाषा बोली जाती हैं? हमारे देश मे विभिन्न प्रकार की वेशभूषा… Read More

4 weeks ago

होली कितने तारीख को है? 2022 में

होली कितने तारीख को है?, होली कब है? 2022 में , Holi Kab Hai 2022… Read More

4 weeks ago